G20 Summit In Delhi In Hindi – G20 समिट 2023 क्या है ? , जी-20 समिट में नई दिल्ली के घोषणापत्र को मिली मंजूरी

G20 समिट 2023:G20 Summit In Delhi In Hindi” जी-20 समिट में नई दिल्ली के घोषणापत्र को मिली मंजूरी, पीएम मोदी ने कहा धन्यवाद

G20 समिट दिल्ली: प्रगति मैदान के भारत मंडपम में जी-20 शिखर सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इसमें अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटेन के पीएम समेत दुनिया भर के कई दिग्गज नेता हिस्सा ले रहे हैं

G20 Summit In Delhi In Hindi

G20 समिट 2023 दिल्ली: पीएम मोदी ने नई दिल्ली जी-20 लीडर समिट घोषणा की, नेताओं द्वारा स्वीकृत

नई दिल्ली जी-20 लीडर समिट घोषणा: “G20 Summit In Delhi In Hindi” दिल्ली के प्रगति मैदान में जी-20 शिखर सम्मेलन चल रहा है। समिट के पहले दिन शनिवार (9 सितंबर) को नई दिल्ली जी-20 साझा घोषणापत्र को मंजूरी दी गई। समिट के दूसरे सेशन में पीएम मोदी ने इस बारे में घोषणा करते हुए जी-20 शेरपाओं, मंत्रियों और सभी अधिकारियों को धन्यवाद दिया।

G20 Summit In Delhi In Hindi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “एक खुशखबरी मिली है कि हमारी टीम के कठिन परिश्रम और आप सबके सहयोग से जी-20 लीडर समिट के डिक्लेरेशन पर सहमति बनी है। मेरा प्रस्ताव है कि लीडर्स डिक्लेरेशन को भी अपनाया जाए। मैं भी इस डिक्लेरेशन को अपनाने की घोषणा करता हूं.”

यह भी पाहे : भारत के सभी राष्ट्रपतियों की सूची (1947-2024)

इन मुद्दों पर केंद्रित है नई दिल्ली जी-20 घोषणापत्र

घोषणापत्र को मंजूरी मिलने पर जी-20 शेरपा अमिताभ कांत ने एक्स पर पोस्ट कर लिखा, “नई दिल्ली जी-20 घोषणापत्र मजबूत, टिकाऊ, संतुलित और समावेशी विकास, एसडीजी पर प्रगति में तेजी लाना, सतत भविष्य के लिए हरित विकास समझौता, 21वीं सदी के लिए बहुपक्षीय संस्थान और बहुपक्षवाद को पुनर्जीवित करने पर केंद्रित है.”

पीएम की वैश्विक जैव ईंधन गठबंधन पर घोषणा

इस दौरान पीएम मोदी ने वैश्विक जैव ईंधन गठबंधन के शुभारंभ की भी घोषणा की। प्रधानमंत्री मोदी ने जी20 शिखर सम्मेलन में कहा कि हम वैश्विक जैव ईंधन गठबंधन बना रहे हैं और भारत आप सभी को इस पहल में शामिल होने के लिए आमंत्रित करता है। भारत ने पेट्रोल में इथेनॉल मिश्रण को 20 प्रतिशत तक ले जाने के लिए वैश्विक स्तर पर पहल का प्रस्ताव दिया है।

विकसित देशों से किया ये आह्वान

उन्होंने कहा कि भारत ने ‘पर्यावरण और जलवायु अवलोकन के लिए जी-20 उपग्रह मिशन’ शुरू करने का प्रस्ताव रखा है। मेरा प्रस्ताव है कि जी-20 देश ‘ग्रीन क्रेडिट पहल’ पर काम करना शुरू करें। विकसित देश इसमें बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

G20 समिट 2023: नई दिल्ली के घोषणापत्र को मंजूरी – प्रधानमंत्री मोदी ने आभार व्यक्त किया

2023 के G20 समिट, नई दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित किया गया, उसके आयोजन दिन, 9 सितंबर को जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान उसकी मंजूरी का साक्षात्कार हुआ। सम्मेलन में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और ब्रिटिश प्रधानमंत्री समेत विश्व के प्रमुख नेताओं का भागीदारी था,

सामान्य प्रश्न: Faqs

  1. G20 समिट क्या है?
    • G20 समिट दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के नेताओं की वार्षिक गोष्ठी है, जिसमें आर्थिक स्थिरता, पर्यावरणीय स्थिरता और अंतरराष्ट्रीय सहयोग जैसे विभिन्न वैश्विक मुद्दों पर चर्चा और सहयोग किया जाता है।
  2. नई दिल्ली में G20 समिट का आयोजन करने का महत्व क्या है?
    • नई दिल्ली में G20 समिट का आयोजन करना भारत की वैश्विक मंच पर बढ़ती महत्ता और प्रेस्तिज को दर्शाता है और यह दुनिया के प्रमुख चुनौतियों का समाधान करने के लिए भारत की प्रतिबद्धता को दर्शाता है।
  3. G20 लीडर्स समिट घोषणापत्र क्या है?
    • G20 लीडर्स समिट घोषणापत्र एक महत्त्वपूर्ण दस्तावेज है जिसमें समिट के दौरान G20 देशों के नेताओं द्वारा प्राप्त समझौतों और सहमतियों की सूची दी गई है।
  4. घोषणापत्र के मुख्य बिंदु क्या थे?
    • घोषणापत्र ने मजबूत, दिनानुकूल और समावेशी विकास को प्रोत्साहित करने, सस्ते विकास लक्ष्यों की दिशा में गति को तेज करने, बहुपक्षीयता को फिर से जीवंत करने और बहुपक्षीय संस्थानों की संजीवनी बनाने पर महत्वपूर्ण बल दिया।
  5. समिट के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कौन-कौन सी पहल की?
    • प्रधानमंत्री मोदी ने वैश्विक जैव ईंधन संघ की शुरुआत की और वैश्विक स्तर पर गैसोलीन में 20% इथेनॉल मिश्रण का प्रस्ताव दिया। उन्होंने “पर्यावरण और जलवायु मॉनिटरिंग के लिए G20 अंतरिक्ष मिशन” की शुरुआत की और विकसित देशों से “ग्रीन क्रेडिट पहल” पर सहयोग करने की अपील की।

निष्कर्ष:

2023 के G20 समिट के दौरान G20 लीडर्स समिट घोषणापत्र की मंजूरी एक साक्षात्कार है जो विश्व के नेताओं के सहयोगपूर्ण प्रयासों की प्रतीक्षा करता है। यह प्रेस्तावित करता है कि दुनिया के सहयोग, पर्यावरण संरक्षण और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के महत्वपूर्ण चुनौतियों के सामने सहमति है। प्रधानमंत्री मोदी की पहल, जैसे कि वैश्विक जैव ईंधन संघ और G20 अंतरिक्ष मिशन, और “ग्रीन क्रेडिट पहल” पर विकसित देशों से की गई अपील, भारत की वैश्विक प्रगति के प्रति पुनर्निर्धारित प्रतिबद्धता को और भी मजबूत करती है। समिट बढ़ती है, विश्व उम्मीद के साथ देख रहा है, जो हमारे साझे भविष्य को आकार देने वाले मानदंड चाहता है।

2 thoughts on “G20 Summit In Delhi In Hindi – G20 समिट 2023 क्या है ? , जी-20 समिट में नई दिल्ली के घोषणापत्र को मिली मंजूरी”

Leave a Comment